सोमवार, 11 अप्रैल 2011

सृष्टि कुछ........

सृष्टि कुछ नातों का संबंधों का एक विस्तार है
एक आकर्षण खिंचा इस पार से उस पार है     

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें